Desh Bhaktike Geet

घड़ा कैसा बने?-इसकी एक प्रक्रिया है। कुम्हार मिटटी घोलता, घोटता, घढता व सुखा कर पकाता है। शिशु, युवा, बाल, किशोर व तरुण को संस्कार की प्रक्रिया युवा होते होते पक जाती है। राष्ट्र के आधारस्तम्भ, सधे हाथों, उचित सांचे में ढलने से युवा समाज व राष्ट्र का संबल बनेगा: यही हमारा ध्येय है। "अंधेरों के जंगल में, दिया मैंने जलाया है। इक दिया, तुम भी जलादो; अँधेरे मिट ही जायेंगे।।" (निस्संकोच ब्लॉग पर टिप्पणी/अनुसरण/निशुल्क सदस्यता व yugdarpan पर इमेल/चैट करें, संपर्कसूत्र- तिलक संपादक युगदर्पण
मीडिया समूह YDMS 09911111611, 9999777358.

Tuesday, October 29, 2013

सत्य का तथ्य (2013)

सत्य का तथ्य (2013) Monday, October 28, 2013

सत्य का तथ्य -(एक वार्षिक परिक्रमा) 

সত্য ঘটনা, સત્ય હકીકતો, सत्य तथ्ये, ಸತ್ಯ ಫ್ಯಾಕ್ಟ್ಸ್, உண்மையை உண்மைகள், ట్రూత్ వాస్తవాలు,  സത്യ ക തതയ ,  ਦਾ ਤਥ੍ਯ, Facts of the Truth, सत्यश्च तथ्य:, سچ کی حقیقت , حقایق حقیقت ,

(नव महाभारत दर्पण monday, june 17, 2013) महाभारत 2014 की रणभेरी बज उठी है।

भ्रम के घनघोर अंधेरों में 

इन्हें अवश्य देखें, विशेषकर सत्यदर्पण:- ...और कितना गिरोगे देश के गद्दारो ? 

व YDMS के 28 विविध  ब्लाग 5 चेनल  अन्यसूत्र

 नकारात्मक मीडिया के सकारात्मक व्यापक विकल्प  का एक सार्थक संकल्प युग दर्पण YDMS

- (विविध विषयों के 28 ब्लाग, 5 चेनल  अन्य सूत्र) की 60 से अधिक देशों में एक वैश्विक पहचान है। आप चाहें तो आप भी इस सोच  संघर्ष के साथी बन सकते हैं, लेखक न भी हों, तो इसके समर्थक/प्रचारक बनकर।

यह केवल एक समाचारपत्र या ब्लाग नहीं, पूर्व में बंगाल से पश्चिम के गुजराज, उत्तर के पंजाब से चारों दक्षिणी  राज्यों व भाषाओँ तक सभी देश भक्तों का व्यापक मंच है मैकाले ने एक विचार दिया इस देश के अस्तित्व को प्रदूषित कलंकित करने का, राष्ट्रद्रोही शर्मनिर्पेक्षों ने कर दिखाया।  इसी को बदलने के व्यापक विकल्प से जुड़ कर, अब राष्ट्र भक्त अपना दायित्व निभाएंगे। 
मैकालेवादी दास प्रवृति  मानसिकता के लोगों की अपने विदेशी स्वामियों के प्रति जितनी निष्ठा है, यदि उसका 1 लाखवां अंश भी अपनी भारत भूमि के प्रति निष्ठा रहती: तो भारत की यह दुर्दशा कभी  होती।  भारत के पुत्रो, आइये राष्ट्र की इस सुप्त चेतना को पुनर्जागृत  प्रतिष्ठित करें। -तिलक YDMS वन्देमातरम
सत्ता की सीता का हरण करने, कोई स्वार्थ का बिका लोभी रावण छद्म वेश में छल न ले! स्वयं जागें, देश जगाएँ 
2008 में भी आम आदमी के नाम से छला गया अब भी छलने की है तैयारी, बस पात्र बदल गए हैं इस बारी 

(कविता) स्वामी विवेकानन्द महान। saturday, january 5, 2013,

नेता जी सुभाष के जन्म दिवस पर उन्हें शत शंत नमन ...!!(लेख) tuesday, january 22, 2013,

बसंत पंचमी 15.2.2013,राष्ट्र रक्षा संकल्प दिवस 

हिंदुत्व एक जीवन शैली 

** "हे भारत की नारी"**

राष्ट्र की दुर्दशा, कारण, निवारण : january 20, 2013,भारतीय शिक्षा प्रणाली का विनाश,

वैचारिक क्रांति का सूत्रपात, कुचक्रों से घिरा राष्ट्र जागे ! saturday, march 30, 2013,

2 -3, मार्च 2013 अध्यक्षीय भाषण- राष्ट्रीय परिषद की बैठक,  tuesday, march 5, 2013,

नरेंद्र मोदी का धर्मनिरपेक्षता मंत्र: march 11, 2013, 

छत्रपति शिवाजी का मराठा साम्राज्य

कौन सच्चा है कौन झूठा saturday, july 27, 2013 

ब्लाग पर पधारे देसी विदेशी आगंतुक,  पराजय में है - 'अजेय' का मन्त्र ! -तिलक 

wednesday, may 15, 2013

भारत की सीमा पर चीनी सेना द्वारा फिर घुसपैठ।   देश के भविष्य का आधार 

उतराखंड में विनाश प्राकृतिक नहीं, षड़यंत्र !  ,  तथा इस माह रामलीला, कम्पूजी व राजनीती पर, व्यंग चित्र व कार्टून,

ऐसे अनेकों समाचार, लेख, स्तम्भ, काव्य, व्यंग चित्र व कार्टून, व अन्य प्रस्तुतियां, जिन्हें फेस बुक या ट्वीटर से लम्बे समय कटे रहने से, विविध विषयों के 28 ब्लाग सेआपसे शेयर नहीं कर सका।YDMS ब्लाग, 5 चेनल  मेरे G+ गूगल के मित्र, आप सभी "मेरे फेस बुक के नए या ट्वीटर' के सूत्र देख लें व जुड़ सकते हैं 
भारत वर्षस्य के मित्र बनें, Join Positive media/ Like Pages of YDMS-
नकारात्मक मीडिया के सकारात्मक व्यापक विकल्प का सार्थक संकल्प
-युगदर्पण मीडिया समूह YDMS- तिलक संपादक
विश्वगुरु रहा वो भारत, इंडिया के पीछे कहीं खो गया |
 इंडिया से भारत बनकर ही, विश्व गुरु बन सकता है; - तिलक
पूरा परिवेश पश्चिम की भेंट चढ़ गया है | उसे संस्कारित, योग, आयुर्वेद का अनुसरण कर
हम अपने जीवन को उचित शैली में ढाल सकते हैं | आओ मिलकर इसे बनायें; - तिलक
हम जो भी कार्य करते हैं, परिवार/काम धंधे के लिए करते हैं |
 देश की बिगडती दशा व दिशा की ओर कोई नहीं देखता | आओ मिलकर इसे बनायें; -तिलक

"अंधेरों के जंगल में, दिया मैंने जलाया है |
इक दिया, तुम भी जलादो; अँधेरे मिट ही जायेंगे ||"- तिलक
Post a Comment